INTERVIEW: ‘एक फिल्म मेकर, एक्टर और निर्माता के तौर पर मुझे अभी बहुत कुछ करना हैं – शाहरुख खान

लिपिका वर्मा

बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने इस साल वैसे तो फिल्म इंडस्ट्री में साढ़े 26 साल पूरे कर लिए हैं, लेकिन फिल्मों की रिलीज के हिसाब से हाल ही में उन्होंने 25 साल पूरे किए हैं। शाहरुख बताते हैं, ‘वैसे तो साढ़े छब्बीस साल पूरे कर लिए हैं बॉलिवुड में लेकिन जब सब लोग कहते हैं कि 25 साल हुए हैं तो इसका भी जश्न मना रहा हूं।’

अपने इस दो दशक से ज्यादा के इस सफर के बारे में बातचीत में शाहरुख ने कहा, ‘आज जो है वह बहुत अच्छा है और जो भी हो रहा है वह भी बेहद खूबसूरत है। मैं अगर आज अपने सफर के कुछ सालों को अच्छा और कुछ को मुश्किल भरा कहूंगा तो यह बातें युवाओं को डिस्करेज करेंगी, क्योंकि मैं जहां पर हूं वह दुनिया का सबसे अच्छा मुकाम है और मैं यही चाहूंगा कि इस बात पर सबका विश्वास हो। अपनी तमाम समस्याओं, विवादों और शारीरिक तकलीफों की बात करना बिल्कुल भी ठीक नहीं है।’

निर्देशक मणिरत्नम की बात करते हुए शाहरुख ने कहा, ‘मैंने पहले भी कहा था और आज भी कहता हूं कि मणिरत्नम साहब के साथ काम करने के लिए मैं अपना दाहिना हांथ दे सकता हूं। यह उनकी अच्छी बात है कि उन्होंने कभी मेरा हांथ माँगा नहीं।’

शाहरुख अपने इस सफर में तमाम निर्देशकों का योगदान बताते हुए कहते हैं, ‘मेरी जिंदगी में करन जौहर, यश चोपड़ा, आदित्य चोपड़ा, फराह खान, और अजीज मिर्जा जैसे और भी कई फिल्म मेकर आए है जिनका मेरे इस सफर में प्रोफेशनली बहुत योगदान रहा है। मेरा यह मानना है कि जब हम किसी एक निर्देशक के साथ काम करते हैं तो उससे एक तरह का संबंध हो जाता है और अगर यह संबंध न बने तो एक्टर-डायरेक्टर को साथ में काम नहीं करना चाहिए। मैंने भी अपने शुरुआती दिनों में बहुत से ऐसे निर्देशकों के साथ काम किया है जिनके साथ अच्छा संबंध नहीं बना। मैं अपनी सभी ऐक्ट्रेस को भी यही कहता हूं कि कभी भी उस निर्देशक के साथ काम मत करों जिनके साथ आपकी अच्छी दोस्ती नहीं है। मेरे यही संबंध मेरी जिंदगी के टर्निंग पॉइंट्स हैं। अगर उनके साथ बनाई गई फिल्में भी बुरी रही हैं तब भी हमारा यह रिश्ता अच्छा हैं, क्योंकि इस दौरान उन्हें मुझसे और मुझे उनसे कुछ न कुछ सीखने को मिला है।’

शाहरुख निर्देशकों के साथ अपने दोस्ती पर हंसते हुए कहते हैं, ‘मैं कभी भी किसी डायरेक्टर को अपने साथ बांध कर नहीं रखता हूं। लेकिन इन सभी निर्देशकों के साथ मेरा हॉलीवुड फिल्मों में दिखाए जाने वाले छुट्टी के रोमांस की तरह रोमांस रहा। इनमें से कुछ के साथ यह रोमांस शादी तक भी पहुंचा लेकिन बाद में मैंने उन्हें पसंद नहीं किया।’

शाहरुख कहते हैं, ‘मुझे अभी भी एक बहुत ही बेहतरीन विजुअल इफेक्ट वाली फिल्म बनानी है। मैंने अपने इस सफर में कोई चीज प्लान नहीं की थी कि पहले यह करूंगा, फिर यह और फिर यह। जो भी हो रहा है समय के साथ है। बहुत सी चीजें खुद ही हो रही हैं जिनका मैं श्रेय नहीं ले सकता हूं।’

वह आगे कहते हैं, ‘एक फिल्म मेकर, ऐक्टर और निर्माता के तौर पर मुझे अभी बहुत कुछ करना हैं। मुझे लगता है सब कुछ हो जाएगा। मुझे लगता है आने वाले समय में हम अपनी हिंदी फिल्म के लिए दुनिया का सबसे बड़ा अवॉर्ड और रिवॉर्ड भी ले लेंगे। मैं यहां बड़बोला नहीं हो रहा हूं लेकिन मेरा विश्वास है कि हम यह कर लेंगे। जैसे हमारी हिंदी फिल्मों के अंत में सब ठीक हो ही जाता है वैसे ही हमारी हिंदी फिल्मों को सारे सम्मान भी मिल जाएंगे।’

आगे बातचीत में शाहरुख ने बताया कि उन्होंने पहली बार कैमरा लगभग 29 साल पहले फेस किया था। पहली बार कैमरा फेस करने का अनुभव याद कर शाहरुख बताते हैं, ‘मैंने पहली बार प्रदीप कृशन की अंग्रेजी में बनी टीवी-फिल्म ‘In Which Annie Gives It Those Ones’ के लिए कैमरा फेस किया था। इस फिल्म को बुकर प्राइज विजेता अरुंधति रॉय ने लिखा था। इस फिल्म को उस समय 2 नैशनल फिल्म अवॉर्ड भी मिले थे। मुझे प्रदीप जी ने अपनी फिल्म के लिए एक ऐक्टर के रूप में लिया था।’

शाहरुख आगे कहते हैं, ‘उन दिनों उनका एक छोटा सा (रेंटेड) अपार्टमेंट दिल्ली के चाणक्यपुरी में था। उसी अपार्टमेंट में उन्होंने एक विडियो कैमरा और टीवी साथ में लगाया था, मैंने पहली बार विडियो कैमरा वहीं पर देखा और उसे फेस भी किया था। उस फिल्म में मेरे बहुत सारे दोस्त थे, हम सब थियेटर में साथ काम करते थे। उस फिल्म में मैंने कोई बड़ा रोल नहीं किया था लेकिन मेरे अंदर कैमरे को लेकर जो झिझक थी वहीं से दूर हुई थी। वह बहुत अच्छी एक्सर्साइज़ थी मेरे लिए। कैमरे में देखना भी वहीं से सीखा था।’

शाहरुख अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहते हैं, ‘प्रदीप जी के बाद मैंने महमूद साहब के बेटे मेहकी के साथ कैमरे में काम किया था। महमूद साहब हमारे पारिवारिक मित्र थे, तो मेहकी के पास एक विडियो कैमरा था। मेहकी को जब पता चला कि मैं ऐक्टर बनना चाहता हूं तो उन्होंने मुझे कई बार शूट किया, वही शूटिंग वह मेरी मां को दिखाते थे।’

शाहरुख इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’ के प्रॉडक्शन के काम को पूरा करने के साथ-साथ, निर्देशक आनंद एल राय की फिल्म का काम भी कर रहे हैं। ‘जब हैरी मेट सेजल’ में शाहरुख के साथ अभिनेत्री अनुष्का शर्मा मुख्य किरदार में हैं। फिल्म का निर्देशन इम्तियाज अली ने किया है। यह फिल्म 4 अगस्त को भारतीय सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *