हमें हक़ चाहिये “हक़ से” को मिली सेंसर बोर्ड से हरी झंडी

एकता फिल्म एंटरटेंमेन्ट के बैनर तले राकेश जग्गी के निर्देशन में बनी सामाजिक सरोकारों से अनुप्रेरित फिल्म हमें हक़ चाहिये “हक़ से” को सेंसर बोर्ड ने हरी झंडी दे दी है। और अब यह फिल्म सर्वत्र शीघ्र ही प्रदर्शित होगी। पालमपुर (कांगड़ा) क्षेत्र के एक छोटे-से गाँव झरेट में जन्में निर्देशक राकेश जग्गी के लिए यह फिल्म बहुत महत्वपूर्ण है। श्री जग्गी के लिए यह फिल्म कई मायनों में चुनौतीपूर्ण है। एक टीवी धारावाहिकों के इस मास्टर डायरेक्टर की यह पहली फीचर फिल्म है। दूसरा, यह एक यथार्थपरक विषय को लेकर चलती फिल्म है, जो प्रतिभावान युवकों को समाज के ठेकेदारों द्वारा दिग्भ्रमित कर अपना उल्लू सीधा करने जैसे  मुद्दे को लेकर भी एक बहस शुरू करती है। गुजरात के पटेल आंदोलन के समानांतर चलती इस फिल्म को सेंसर से पास होने में इसी कारण समय लगा। पर जग्गी के अनुसार यह किसी व्यक्ति या समाज विशेष को टार्गेट नहीं करती। इसमें एक ऐसे युवक की परेशानी दिखायी गयी है, जो हर तरह से योग्य है लेकिन उसे नौकरी नही मिलती है। इसका राजनेतागण कैसे लाभ उठाते हैं, यह इसमें दिखाया गया है। इस फिल्म के निर्माता हिम्मत लाडूमोर, दीपक डोंगा और रितुल गजेरा हैं ।IMG-20170316-WA0250

राजेश रूदानी एवं हिम्मत डोंगा द्वारा प्रस्तुत हमें हक़ चाहिए “हक़ से ” के कथा लेखक ज्ञानेश्वर सोंधिया, पटकथा – संवाद लेखक राहुल कुमार शुक्ल और संगीतकार संजय पाठक हैं। संपादन संजय जायसवाल का तथा छायांकन अजय आर्या का है। फिल्म के मुख्य कलाकार हैं– अंकित भारद्वाज (धारावाहिक महाराणा प्रताप फेम),  प्राची बंसल, कुलभूषण खरबंदा, निशिगंधा वाड, मुकुल देव, शशि शर्मा, शिवानी वर्मा, ग्रीवा कंसारा, सुप्रिया कर्णिक, राजीव वर्मा, गौरव प्रतीक, वीरू चौहान, नयन शुक्ल, सुदेश बेरी और अन्य हैं।