हैप्पी बर्थडे अली ज़फर

पाकिस्तानी संगीतकार, गीतकार, गायक, एक्टर ,पेंटर और मॉडल अली जफर का जन्म 18 मई 1980 को लाहौर के पंजाब में हुआ था।  उनके पिता मोहम्मद जफरउल्लाह और माँ कँवल अमिन दोनों ही यूनिवर्सिटी ऑफ़ पंजाब में प्रोफेसर हैं। अली जफर ने अपनी शुरूआती पढ़ाई सी.ए.ए पब्लिक स्कूल और बीच हाउस स्कूल से सम्पन्न की है। उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन गवर्मेंट कॉलेज ऑफ़ लाहौर से की है।अली जफर की शादी उनकी  प्रेमिका आएशा फाजिल से हुई है।  वह एक बेटे और बेटी के पिता भी हैं। उनके बेटे का नाम अज़ान जफ़र है, और बेटी का नाम अलायजा जफर है।

अली ने अपने बतौर गायक अपने करियर की शुरुआत एल्बम हुक्का पानी से की थी।  यह फिल्म साल 2003 में वर्ल्डवाइड रिलीज हुई थी।  उन्हें उनकी पहली फिल्म से काफी प्रसिद्धि मिली थी।  उन्हें उनके इस अल्बुल के लिए सारे अवार्ड्स के नॉमिनेशंस भी मिल चुके है। इस एल्बम के बाद अली पाकिस्तान के टॉप गायकों की फेहरिस्त में शामिल हो गए।  इसके बाद उन्होंने कोक स्टूडियो में लाइव परफॉर्मेंस कर लाकोहो दर्शकों को अपना दीवाना बना दिया।

अली ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत पाकिस्तानी टेलीविजन ड्रामा से की थी। उसके बाद वह भारत आ गए।  यहाँ उन्होंने अभिषेक शर्मा निर्देशित फिल्म तेरे बिन लादेन से हिंदी सिनेमा में कदम रखा।  हालंकि यह फिल्म तो नहीं चली, लेकिन उन्होंने अपनी एक्टिंग से दर्शकों के दिल में अपनी एक लग छाप जरूर छोड़ी। इस फिल्म में उन्हें उनके अभिनय के लिए कई अवार्ड्स में नॉमिनेशन भी मिला था। उसके बाद वह यशराज फिल्म्स की फिल्म मेरे ब्रदर की दुल्हन में कैटरीना कैफ और इमरान खान संग नजर आये।  इस फिल्म ने बॉक्सऑफिस पर ठीक-ठाक कमाई की थी। इस फिल्म के लिए उन्हें साल 2012 में दादा साहेब फाल्के पुरुस्कार से भी नवाजा जा चूका है। उन्होंने हिंदी सिनमा में कई बेहतरीन फिल्मों बतौर लीड अभिनेत काम किया।  जो बॉक्स-ऑफिस पर औसतन सफल भी साबित हुई।  उनकी कुछ खास फिल्मे हैं – तेरे बिन लादेन (2010), लव का दी एन्ड (2011), मेरे ब्रॉथर की दुल्हन (2011), लंदन, पेरिस , न्यू यॉर्क  (2012), चश्मे बद्दूर (2013), टोटल सियापा (2014), किल दिल (2014), तेरे बिन लादेन : डेड और अलाइव (2016), डिअर ज़िन्दगी (2016) आदि ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *